tiktok-clone-mitron-downloads-cross-1-million

जैसे कि आप जानते ही है जब से भारत चीन सीमा विवाद शुरू हुआ है लोगों में चीन के मन में चीन के बहिष्कार के विचार आने लगे हैं। ऐसे में बड़ी से बड़ी चीनी कंपनियों से लेकर चीनी सॉफ्टवेयर तक को बॉयकट किया जा रहा है। इसी का परिणाम है कि टिकटोक जैसी बेहद लोकप्रिय ऐप ने अपनी लोकप्रियता में गिरावट दर्ज कर रही है। इसी का फायदा कई भारतीय कंपनियों को हो सकता है। हाल ही में टिकटॉक को टक्कर देने के लिए Mitron ऐप लॉन्च की गई थी। इस ऐप के प्ले स्टोर पर एक करोड़ से भी ज्यादा डाउनलोड हो चुके हैं।

टिकटॉक का ही क्लोन है मित्रों एप

जैसे कि आप जानते ही होंगे टिकटॉक एक शॉट वीडियो मेकिंग एप है जो ना केवल भारत बल्कि पूरे विश्व में जबरदस्त लोकप्रियता हासिल कर रही थी। ऐसे में भारत में चीनी सामानों के बहिष्कार के बाद मित्रों ऐप को लांच किया गया। इस ऐप को हाल ही के महीनों में लांच किया गया था। इस ऐप पर भी वो सभी कार्य किए जा सकते हैं जो टिकटॉक पर संभव है। ऐसे में यह कहना गलत नहीं होगा कि Mitron पूरी तरह से Tiktok का ही क्लोन है।

Mitron ऐप के डाउनलोड एक करोड़ के पार

चीन के विरुद्ध अपनी नाराजगी जताने के लिए अधिकतर भारतीय लोग चीनी सामानों का बहिष्कार करके अन्य विकल्प की ओर देख रहे हैं। ऐसेे में Tiktok भी इसकी चपेट में आ चुकी है। अधिकतर लोग Tiktok की बजाए Mitron को ज्यादा पसंद कर रहे हैं। यही मुख्य कारण है कि लगभग 2 महीने के समय में इस ऐप के एक करोड़ से भी ज्यादा डाउनलोड हो चुके है। इतना ही नहीं इस ऐप को यूजर पसंद भी कर रहे हैं जो कि इसकी रेटिंग से देखा जा सकता है। प्ले स्टोर पर इस ऐप की रेटिंग 4.5 देखने को मिल रही है।

Mitron में है कई बग

इस ऐप को इस्तेमाल करने के बाद कहीं यूजर का कहना है कि ऐप में काफी सारे बग देखने को मिलते हैं। एक तरफ यह पूरी तरह से टिकटोक का ही क्लोन है वहीं दूसरी और इसमें कई सॉफ्टवेयर खामियां भी देखने को मिल रही है। इसी का उल्लेख करते हुए कई यूजर्स ने इस ऐप को नेगेटिव रेटिंग भी दी है। हालांकि, फिर भी अधिकतर यूजर्स को ये ऐप पसंद आ रही है। यही मुख्य कारण है कि ये ऐप तेजी से लोकप्रियता हासिल कर रही है।

ये भी पढ़िए : Tiktok, Shareit समेत ये 52 चाइनीज ऐप है खतरनाक : इंडियन इंटेलीजेंस एजेंसी

4.5 रेटिंग और एक करोड़ डाउनलोड के साथ ये ऐप प्ले स्टोर पर अपनी पोजीशन बरकरार रखने में सफल हो पाई है।

क्या ये ऐप है सुरक्षित

जब से यह ऐप प्ले स्टोर पर आई है अपने सिक्योरिटी को लेकर सुर्खियों में बनी रही है। इस ऐप के प्ले स्टोर पर आने के कुछ समय के बाद ही इसे प्ले स्टोर से हटा दिया गया था। खबरें आ रही थी कि इस ऐप के सोर्स कोड पाकिस्तानी डेवलपर से लिए गए है। ऐसे में कहा जा रहा था कि इस ऐप का लिंक पाकिस्तान से जुड़ा है। इसके बाद इस ऐप के को फाउंडर ने अपनी प्रतिक्रिया दी थी।

दरअसल, इस ऐप के सीईओ शिवांक अग्रवाल ने हाल ही में यह स्पष्ट किया है कि इस ऐप का ओरिजन भारत है। हम आपसे जानना चाहेंगे आप इस ऐप के विषय में क्या कहना चाहते हैं? हमें अपने विचार नीचे कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताइए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here