हाल ही में चीनी स्मार्टफोन निर्माता कंपनी ओप्पो ने भारत में बजट सेगमेंट में अपना नया स्मार्टफोन ओप्पो K1 लॉन्च किया था जिसने लॉन्च के बाद जबरदस्त सुर्खियां बटोरी थी और इसका मुख्य कारण था बजट सेगमेंट का स्मार्टफोन होने के बावजूद इस स्मार्टफोन में मौजूद इन डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर !
आज इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि क्या ओप्पो K1 स्मार्टफोन खरीदने लायक है? या फिर केवल इन डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर देकर उपभोक्ताओं को आकर्षित किया जा रहा है?

डिजाइन

ओप्पो K1 स्मार्टफोन में 6.4 इंच का फुल-एचडी+ (1080×2340 पिक्सल) डिस्प्ले 19.5:9 आस्पेक्ट रेशियो के साथ दिया गया हैै। अगर डिस्प्ले की बात की जाए तो यहां ओप्पो की जितनी तारीफ की जाए उतनी कम है। दरअसल इस कीमत पर मौजूद अन्य स्मार्टफोन में केवल एलसीडी पैनल देखने को मिलता है लेकिन यहां ओप्पो ने अमोलेड डिस्प्ले दी है जिसके कारण स्क्रीन टू बॉडी रेश्यो काफी ज्यादा है और ब्राइटनेस भी काफी अच्छी है। 
अगर हम गलत नहीं है तो इस कीमत पर किसी भी स्मार्टफोन में अमोलेड डिस्पले मौजूद नहीं है। इस स्मार्टफोन को इस्तेमाल करते वक्त अमोलेड डिस्पले होने के कारण आप एक महंगे स्मार्टफोन का अनुभव करेंगे।

परफॉर्मेंस   

इस हैंडसेट में ऑक्टा-कोर क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 660 प्रोसेसर का इस्तेमाल हुआ है जिसकी स्पीड 2.2 गीगाहर्ट्ज़ है। ओप्पो के1 में 4 जीबी रैम और 6 जीबी रैम का विकल्प है। 
इन डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर देने के बावजूद ओप्पो ने प्रोसेसर के मामले में कोई डाउनग्रेड नहीं किया है बल्कि बजट सेगमेंट का सबसे बेहतरीन प्रोसेसर इस स्मार्टफोन में मौजूद है जिसके कारण स्मार्टफोन को इस्तेमाल करते वक्त आप किसी प्रकार का रुकावट अनुभव नहीं करेंगे।
हालांकि, ये स्मार्टफोन ओप्पो का खुद का सॉफ्टवेयर कलर ओएस पर चलता है जो कुछ खास ऑप्टिमाइज़ नहीं है लेकिन फिर भी इस स्मार्टफोन का परफॉर्मेंस काफी अच्छा है।

कैमरा

कैमरा डिपार्टमेंट की बात की जाए तो ओप्पो के स्मार्टफोन सेल्फी फोकस्ड स्मार्टफोन होते हैं और यहां पर 25 मेगापिक्सल का सेल्फी कैमरा दिया गया है जो डिसेंट सेल्फी क्लिक करता है हालांकि पोर्ट्रेट फोटो लेते वक्त एज डिटेक्शन कुछ खास नहीं है लेकिन फिर भी इसे स्मार्टफोन से ली गई फोटोग्राफी आपकी सोशल मीडिया अकाउंट के लिए बेहतरीन है।
Oppo K1 में पिछले हिस्से पर डुअल कैमरा सेटअप है। प्राइमरी सेंसर 16 मेगापिक्सल का है और सेकेंडरी सेंसर 2 मेगापिक्सल का। आपकी जानकारी के लिए बता दें डे लाइट में ली गई फोटो काफी अच्छी आती है जिसमें सचुरेशन लेवल और नेचुरल टोन देखने को मिलती है हालांकि लो लाइट या रात के समय ली गई फोटो में डिटेल की कमी साफ नजर आती है। 
अच्छी बात यह है कि यह स्मार्टफोन 4K 30fps पर वीडियो रिकॉर्डिंग करने की काबिलियत रखता है लेकिन किसी भी तरह की स्टेबलाइजेशन ना होने के कारण वीडियो काफी शेकी ( हिली हुई ) नजर आती है।

स्टोरेज

अगर इंटरनल स्टोरेज की बात की जाए तो Oppo K1 की इनबिल्ट स्टोरेज 64 जीबी है। लेकिन हमारे अनुसार इस स्मार्टफोन में इंटरनल स्टोरेज से संबंधित किसी भी तरह की समस्या का सामना आपको नहीं करना पड़ेगा क्योंकि फोन की मेमोरी 256gb तक एक माइक्रो एसडी कार्ड की सहायता से बढ़ाई जा सकती है।

बैटरी और कनेक्टिविटी विकल्प 

स्मार्टफोन में 3600 एमएएच की बैटरी दी गई है और यह बैटरी आपके पूरे दिन के इस्तेमाल के लिए काफी होगी। फोन में लगभग सभी स्टैंडर्ड कनेक्टिविटी विकल्प मौजूद है उदाहरण के तौर पर कनेक्टिविटी फीचर में 4जी वीओएलटीई, वाई-फाई 802.11 ए/बी/जी/एन/एसी, ब्लूटूथ 5.0, जीपीएस/ ए-जीपीएस और ग्लोनास शामिल हैं। यह हम आपको पहले ही बता चुके हैं कि इस स्मार्टफोन में इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर मौजूद है जो एक फिजिकल फिंगरप्रिंट सेंसर के जितना तो तेज नहीं है लेकिन काफी अच्छे तरीके से कार्य करता है।

फायदे

  • इन डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर
  • अमोलेड डिस्पले
  • प्रीमियम डिजाइन

नुकसान

  • कलर ओ एस 5.2
  • इलेक्ट्रॉनिक स्टेबलाइजेशन की कमी
  • सही एज डिटेक्शन की कमी (Bokeh Effect)
  •  एवरेज बैटरी

(Pc : OPPO)


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here