iphone-se-top-5-advantages

iPhone SE स्मार्टफोन जब से लांच हुआ है काफी सुर्खियों में बना हुआ है। फोन की लोकप्रियता का मुख्य कारण इसका प्रोसेसर और इसकी कीमत है। ये स्मार्टफोन एप्पल का अभी तक का सबसे सस्ता स्मार्टफोन है।

इस स्मार्टफोन में कंपनी ने अपने सबसे पावरफुल A13 Bionic प्रोसेसर का इस्तेमाल किया है। यही प्रोसेसर एप्पल के महंगे स्मार्टफोन iPhone 11 Pro Max में भी देखने को मिलता है।

अमेरिका में इस स्मार्टफोन की शुरुआती कीमत $399 (लगभग 30,315 रुपए) रखी गई है। हालांकि, ये फोन भारत आते आते काफी महंगा हो जाता है। भारत में इसकी शुरुआती कीमत ₹42,500 रखी गई है।

आज इस आर्टिकल में हम iPhone SE की 5 विशेषताओं के बारे में बताने वाले है। फोन की ये 5 विशेषताएं इस स्मार्टफोन को सुपर स्मार्टफोन बनाती है।

A13 Bionic Chipset

जैसा कि हमने पहले बताया यह स्मार्टफोन बेहद पावरफुल प्रोसेसर के साथ आता है। इस फोन में 3GB रैम के साथ ए13 बायोनिक चिपसेट का इस्तेमाल किया गया है। ये चिपसेट एप्पल की अभी तक की सबसे लेटेस्ट चिपसेट है।

टेक्निकली देखा जाए तो यह चिपसेट एंड्रॉयड स्मार्टफोन में पाए जाने वाले सबसे फास्ट प्रोसेसर स्नैपड्रेगन 865 से भी पावरफुल है।

इस स्मार्टफोन के माध्यम से एप्पल कम कीमत पर यूजर्स को आईफोन 11 प्रो मैक्स जितना पावरफुल स्मार्टफोन ऑफर कर रहा है। ऐसे में इस स्मार्टफोन पर किसी भी कार्य को बेहद आसानी से किया जा सकता है। गेमिंग से लेकर वीडियो रेंडरिंग तक के कार्य ये स्मार्टफोन बेहद आसानी से कर सकता है।

निश्चित तौर पर इस स्मार्टफोन में परफॉर्मेंस से जुड़ी किसी भी तरह की समस्या देखने को नहीं मिलेगी। साधारण डे टू डे टास्क में तो ये स्मार्टफोन मक्खन की तरह चलता है।

Wireless Charging

लेटेस्ट आईफोन 11 सीरीज के स्मार्टफोन से सस्ता होने के बावजूद इस फोन में भी वायरलेस चार्जिंग देखने को मिलती है। यह सस्ता आईफोन SE स्मार्टफोन किसी भी Qi वायरलेस चार्जर से चार्ज किया जा सकता है।

आईफोन SE स्मार्टफोन 7.5 वॉट की वायरस चार्जिंग सपोर्ट के साथ आता है। क्या यह वायरलेस चार्जिंग स्पीड स्लो है ? बहरहाल, ये आप तय करिए क्योंकि OnePlus 8 Pro स्मार्टफोन 30 वाट तक की सबसे फास्ट वायरलेस चार्जिंग टेक्नोलॉजी को सपोर्ट करता है।

स्मार्टफोन में 18 वॉट की फास्ट वायर्ड चार्जिंग टेक्नोलॉजी भी देखने को मिलती है। गौर करने वाली बात यह है कि एप्पल ने अपने इस स्मार्टफोन के साथ में केवल 5 वॉट का ही साधारण सा चार्जर दिया है।

ऐसे में अगर आप इस स्मार्टफोन को फास्ट वायर्ड चार्ज करना चाहते हैं तो अलग से एक फास्ट चार्जर खरीदना होगा।

Water and Dust Resistance

आईफोन SE स्मार्टफोन की एक और खासियत इसकी वाटर एंड डस्ट रजिस्टेंस काबिलियत है। स्मार्टफोन IP68 रेटिंग के साथ आता है। ऐसे में यह स्मार्टफोन 1 मीटर तक पानी में आधे घंटे तक रह सकता है।

भारतीय स्मार्टफोन मार्केट में आईफोन एसी की कीमत पर शायद ही कोई स्मार्टफोन वाटर एंड डस्ट रजिस्टेंस के साथ आता है। आईफोन एसी का सीधा मुकाबला OnePlus 8 से है लेकिन इस स्मार्टफोन में भी वाटर और डस्ट रजिस्टेंस देखने को नहीं मिलती है।

ऐसे में अगर आप अपने स्मार्टफोन को स्विमिंग पूल जैसी जगह पर ले जाना पसंद करते हैं तो निश्चित तौर पर यह आपके लिए एक अहम फीचर होगा।

Touch ID

अगर आप किसी लेटेस्ट आईफोन का इस्तेमाल करते हैं तो जानते ही होंगे कि एप्पल के लेटेस्ट आईफोन में स्वाइप जेस्चर देखने को मिलते है। आज के इस समय में जब कोरोना महामारी चरम पर है तो फेस आईडी का इस्तेमाल करना आसान नहीं है क्योंकि यूजर्स हमेशा मास्क पहने रखते हैं।

ऐसे समय में टच आईडी यूजर्स के लिए काफी सहूलियत भरी हो सकती है। सीधे शब्दों में कहां जाए तो एप्पल के लेटेस्ट आईफोन एसी स्मार्टफोन में फ्रंट पर एक फिंगरप्रिंट सेंसर दिया गया है।

इस फिंगरप्रिंट सेंसर का इस्तेमाल करना फेस आईडी के इस्तेमाल से ज्यादा सरल है। खास तौर पर इस समय जब सभी यूजर्स को हमेशा मास्क लगाएं रखने की सलाह दी जा रही है।

लेटेस्ट आईफोन आ जाने के बाद भी कई यूजर्स को एप्पल का पुराना होम बटन वाला डिज़ाइन ही बेहद अच्छा लगता था। इसका सबसे बड़ा उदाहरण अमेरिका के प्रेसिडेंट डॉनल्ड ट्रंप का है।

कुछ समय पहले डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट करते हुए एप्पल को यह नसीहत दी थी कि स्वाइप नेवीगेशन गेसचर्स से ज्यादा अच्छा उन्हें एप्पल का होम बटन लगता है।

Apple Ecosystem

अब यह खासियत शायद सभी स्मार्टफोन यूजर्स के लिए महत्वपूर्ण ना लेकिन अगर आप एप्पल के अन्य प्रोडक्ट इस्तेमाल करते हैं तो निश्चित तौर पर अन्य आईफोन के मुकाबले यह सस्ता आईफोन आपको वही एप्पल इकोसिस्टम देता है जो महंगे आईफोन में आपको मिलेगा।

एप्पल इकोसिस्टम को सीधे तौर पर ऐसे समझा जा सकता है कि अगर आप एप्पल का मैकबुक, एप्पल वॉच, एप्पल आईपैड या एप्पल की अन्य सर्विसेस का इस्तेमाल करते हैं तो इन सभी गैजेट्स के बीच इंटरेक्शन काफी आसान हो जाता है।

अगर आपके ऑफिस या घर पर एप्पल के अन्य प्रोडक्ट है तो निश्चित तौर पर एंड्रॉयड फोन के मुकाबले आईफोन ज्यादा अच्छा यूजर एक्सपीरियंस देगा। अब उस एप्पल इकोसिस्टम का लाभ उठाने के लिए आपको महंगे आईफोन 11 सीरीज के स्मार्टफोन के बजाय एक सस्ते आईफोन एसी के रूप में भी विकल्प मिल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here