PUBG के अल्टरनेटिव के तौर पर भारत में देसी वार गेम FAU-G को लॉन्च कर दिया गया है। यह गेम अब प्ले स्टोर पर एंड्रॉयड यूजर्स के लिए उपलब्ध करा दिया गया है।

fau-g-game-crosses-1-million-downloads-on-first-day-of-launch

वैसे तो ये गेम पिछले साल ही लॉन्च किए जाने वाला था लेकिन आखिरकार गणतंत्र दिवस के अवसर पर 26 जनवरी को इस गेम को ऑफीशियली लॉन्च कर दिया गया है।

जैसा कि आप जानते ही होंगे बीते साल सुरक्षा के कारणों के मद्देनजर रखते हुए कई चीनी ऐप को बैन कर दिया गया था जिनमें PUBG भी शामिल था। फौजी गेम को nCore स्टूडियो प्राइवेट लिमिटेड के द्वारा बनाया गया है। गेम की लोकप्रियता का अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि लॉन्च होने के एक दिन के भीतर ही इसे 10 लाख से ज्यादा लोगों ने डाउनलोड कर लिया था। फिलहाल के लिए इस गेम के 50 लाख से भी ज्यादा डाउनलोड हो चुके है।

FAU-G गेम एक वार गेम है जिसे फिलहाल स्टोरी मोड में पेश किया गया है। इसे गलवान वेली पर आधारित किया गया है। गेम को फिलहाल के लिए हिंदी, अंग्रेजी और तमिल भाषाओ में लांच किया गया है।

गेम के मेकर्स ने बताया कि भविष्य में इसे अन्य भाषाएं जैसन मलयालम, बंगाली और भोजपुरी में लांच किया जा सकता है। जैसे कि हमने पहले भी बताया इस गेम को फिलहाल एंड्रॉयड प्लेटफॉर्म पर ही लांच किया गया है। आईफोन यूजर को अभी थोड़ा इंतजार करना पड़ सकता है।

ये भी पढ़िए : Covid-19 वैक्सीन के लिए आधार कार्ड से मोबाइल का लिंक ज़रूरी:सरकार

यह गेम एंड्राइड के प्ले स्टोर पर उपलब्ध करा दिया गया है। इस गेम का साइज 460 एमबी का है। गेम को डाउनलोड करने के लिए वाईफाई से कनेक्टेड होना जरूरी है। साथ ही फोन में कम से कम 20% तक बैटरी के होने की भी ज़रूरत है। यह गेम एंड्राइड 8 या या इससे ऊपर चलने वाले सभी एंड्राइड वर्जन के स्मार्टफोन पर डाउनलोड किया जा सकता है।

फोन के मेकर्स का कहना है कि अभी के लिए गेम केवल मिड और हाईएंड स्मार्टफोन के लिए ही बनाया गया है । भविष्य में फोन को लो एंड स्मार्टफोन यूजर्स के लिए भी बनाया जा सकता है। ऐसे में अगर आप फौजी गेम को खेलना चाहते हो तो आपके फोन में कम से कम 2GB रैम का होना जरूरी है।

फोन के अनाउंस होने पर इसे काफी अच्छा रेस्पॉन्स मिला था। अब गेम के 50 हजार डाउनलोड हो जाने के बाद कहा जा सकता है कि यूजर इसे काफी पसंद कर रहे हैं।

ऐसे में यह देखना दिलचस्प रहेगा कि क्या देसी वार गेम FAU-G, पब्जी के अल्टरनेटिव विकल्प के तौर पर सफल होता है ?

हम आपसे जानना चाहेंगे आप इस विषय में क्या कहना चाहते हैं हमें अपने विचार नीचे कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताइए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here