bharat-messenger-is-ready-to-take-on-whatsapp

Bharat Messenger ऐप इन दिनों काफी लोकप्रिय हो रही है। दरअसल, ये ऐप काफी हद तक WhatsApp जैसा एक्सपीरियंस यूजर को देती है।

जैसे कि आप जानते ही हैं भारत में चाइनीस प्रोडक्ट का बहिष्कार किए जाने पर लोग ज़ोर दे रहे है। ऐसे में लोग ज्यादा से ज्यादा भारत में निर्मित प्रोडक्ट का इस्तेमाल करना चाहते हैं। इससे भारत की रूकी हुई इकोनॉमी को थोड़ा पुश जरूर मिलेगा। पिछले दिनों Tiktok भी इसका शिकार बना था। दरअसल, इंटरनेट पर काफी यूजर Tiktok को बैन करने की मांग करने लगे थे। यूजर केवल चाइनीस प्रोडक्ट को ही बैन करने की मांग नहीं कर रहे हैं बल्कि उनका मानना है कि भारत में बने निर्मित प्रोडक्ट का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल किया जाए। (Bharat Messenger)

खास तौर पर प्रधानमंत्री के द्वारा दिए गए संबोधन में इस बात पर काफी जोर दिया गया था कि भारत की अर्थव्यवस्था को उठाने के लिए सभी को यह सुनिश्चित करना होगा कि ज्यादा से ज्यादा भारत में निर्मित प्रोडक्ट का इस्तेमाल एवं खरीदारी की जा सके।

ऐसे में एक नई मैसेजिंग ऐप बेहद लोकप्रिय हो रही है जो सीधे तौर पर WhatsApp को टक्कर देने के लिए तैयार है। दरअसल, हम बात कर रहे हैं Bharat Messenger एप की ?

Bharat Messenger एप आखिर है क्या ?

Bharat Messenger एप प्ले स्टोर पर इस समय उपलब्ध है। यह एक इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप है। इस ऐप का इंटरफेस काफी हद तक WhatsApp से मिलता-जुलता है। ऐसे में यह ऐप इंटरनेट के माध्यम से यूजर को एक दूसरे से जोड़े रखने का विकल्प प्रदान करती है। क्या यह ऐप WhatsApp को टक्कर दे सकती है ? बहरहाल इस बात का पता तो समय के साथ ही चलेगा लेकिन इस ऐप के डाउनलोड में काफी तेजी देखने को मिली है। गूगल प्लेस्टोर पर इस ऐप को 5000 से भी ज्यादा बार डाउनलोड किया जा चुका है।

Bharat Messenger क्या मेड इन इंडिया है ?

bharat-messenger-is-ready-to-take-on-whatsapp

जी हां, ये ऐप भारत में निर्मित कहीं जा सकती है। दरअसल, इस ऐप को Mrityunjay Singh Communications के द्वारा डिवेलप किया गया है। इस ऐप का साइज लगभग 51 एमबी का है। जैसे कि हमने पहले ही बताया काफी कम समय में यह एक 5000 से भी ज्यादा डाउनलोड हासिल कर चुकी है।

खासतौर पर भारतीय लोगों के मन में मेड इन इंडिया प्रोडक्ट को इस्तेमाल करने के विचार के कारण इस तरह की है काफी प्रचलित हो रही है। हाल ही में एक उदाहरण Mitron ऐप का भी देखने को मिला था। दरअसल, Tiktok का बहिष्कार करने के बाद Mitron ऐप बेहद ज्यादा लोकप्रिय हुई थी।

बताते चले Mitron ऐप काफी हद तक Tiktok के जैसा ही यूजर इंटरफेस प्रदान करती थी। सोशल मीडिया पर काफी दावे किए जा रहे थे कि यह ऐप मेड इन इंडिया है। हालांकि बाद में इस ऐप के लिंक पाकिस्तान से जुड़े मिले जिसके बाद इसे प्ले स्टोर से हटा दिया गया।

क्या WhatsApp को कोई खतरा है ?

इसमें कोई शक नहीं है कि WhatsApp सबसे ज्यादा लोकप्रिय मैसेजिंग ऐप हैं। खासतौर पर भारत में WhatsApp के डेली एक्टिव यूजर की संख्या अन्य देशों के मुकाबले काफी ज्यादा है। ऐसे में इस ऐप के लिए WhatsApp को टक्कर देना आसान नहीं होगा। Bharat Messenger ऐप को अभी काफी लंबी दूरी तय करनी है।

फेसबुक के पैरेंट कंपनी वाली व्हाट्सएप ऐप यूज़र इंटरफेस को बेहतर करने के लिए समय-समय पर नए अपडेट्स जोड़ती रहती है। कुछ समय पहले ही व्हाट्सएप के द्वारा स्टेटस का फीचर जोड़ा गया था जिसे यूजर्स के द्वारा काफी पसंद किया गया था। पिछले काफी समय से खबरें आ रही है कि व्हाट्सएप बेहद जल्द Whatsapp Pay का विकल्प जोड़ने वाली है।

ये भी पढ़िए : WhatsApp से होगी अब गैस सिलिंडर की बुकिंग, बेहद आसान तरीका है

जैसे कि आप जानते हैं व्हाट्सएप भारत में लगभग हर स्मार्टफोन यूजर इस्तेमाल करता है। ऐसे में WhatsApp Pay का आना निश्चित तौर पर अन्य डिजिटल वॉलेट के लिए खतरा है। खबरों के मुताबिक भारत में जून महीने में Whatsapp Pay का रोल आउट किया जाना था। अब ये देखना होगा कि कब तक ये फीचर सभी यूजर्स को मिल पाता है ?

हम आपसे जानना चाहेंगे आप भारत मैसेजिंग एप के विषय में क्या कहना चाहते हैं? हमें अपने विचार नीचे कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताइए। क्या आपको लगता है इस तरह की ऐप से व्हाट्सएप की लोकप्रियता को कोई खतरा है ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here